logo
add image

रेत के भाव कम कराने की मांग को लेकर श्रमिको ने कलेक्टर और विधायक को सौपा ज्ञापन


शहर के विभिन्न क्षेत्रो के श्रमिको ने शुक्रवार 22 मई को रेत के भाव कम कराने की मांग को लेकर कलेक्टर के नाम एक लिखित ज्ञापन तहसीलदार को व प्रतिलिपी नीमच विधायक दिलीप सिंह परिहार सौपा। ज्ञापन में उल्लेख किया कि कोरोना संकट काल में लाॅक डाउन के चलते वैसे ही गरीब मजदूर वर्ग के हाल बेहाल है। उसके बाद अब प्रशासन के आदेश पर निर्माण कार्य चालू होना थे, लेकिन रेती के आसमान छूते भाव के कारण अधिकांश लोग अपने घर व संस्थानो को निर्माण कार्य शुरू नही कर रहे है। रेती की ट्राली पूर्व में 2 हजार रूपये से 2 हजार 500 रूपये में मिल जाया करती थी। जो अब 4 हजार 500 रूपये से 6 हजार 500 रूपये में रेत की ट्राली मिल रही है। रेती के आसमान छूते भाव के कारण निर्माण कार्य शुरू नही हो पा रहें और एक बार फिर गरीब मजदूर वर्ग भुखमरी की कगार पर है। वही नीमच जिले में रेत की कालाबाजारी और मुनाफाखोरी करने वाले व्यापारियो पर लगाम लगाई जाए साथ ही नीमच जिले में रेत की आवक पर हो रहे भ्रष्टाचार को रोका जाए ताकि रेत के भाव कम हो सके। ज्ञापन सौपते समय रवि गोयल, अंकित जाजोरिया, सोनू खोर, मुकेश राजोरा, लोकेश सलोना, इंदर सिंह जयंत, सूरज खूंआर, संजय सलोना, किशोर तारपुरिया, विष्णु मौर्य, गोविंदा मौर्य, प्रदीप वरूण, प्रकाश बख्तरिया, बहादूर यादव उपस्थित थे।

Top