logo
add image

गुल्लक से पैसे निकालकर देने वाले बच्चों को मुख्यमंत्री ने दिलाई सायकल

टवीट कर मुख्मंत्री ने कहाँ भांजों तुमने साइकिल हेतु.. गरीबों मजदूरों को भोजन कराने के दिए हैं साईकिल लेकर तुम्हारा मामा मिलने आएगा


नीमच। पिछले चार दिनों पहले नीमच के मनासा तहसील के कजाड़ा क्षैत्र के दो मासूम बच्चों ने कोराेना वायरस से लड़ने के लिए अपने गुल्लक से पैसे निकालकर पुलिस को देने वाले वायरल  विडियों को देख हर कोई इन बच्चों को सलाम कर रहा हैं। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इन बच्ों के तारीफ करते हुए फेसबुक व टिवीट करते हुए कहॉ की मेरे भांजों तुमने साइकिल हेतु रखे अपने पैसे कोरोना से लड़ने व गरीबों मजदूरों को भोजन कराने के लिए थाने में दिए हैं मैं तुम्हारी इस पवित्र भावना का अभिनंदन करता हूं कोरोना को परास्त कर तुम्हारे लिए साईकिल लेकर तुम्हारा मामा मिलने आएगा। गौरतलब हैं की इन दोनों बच्चों ने  पिछले दिनों कोरोना संक्रमण से लडऩे के लिए प्रधानमंत्री के आह्वान पर दो मासूम छात्र केशवसिंह एवं छात्र देवराज ने अपनी गुल्लक में जमा पांच हजार 60 रुपए की राशि गत दिनों पुलिस चौकी कंजाडऱ्ा पहुंचकर कोरोना संक्रमण पीडि़तों के सहायतार्थ भेंट की थी। मदद के लिए सौंप दी थी। यह जानकारी मुख्यमंत्री तक भी पहुंची। उन्होंने दोनों बच्चों का सम्मान करने के निर्देश कलेक्टर को दिए थे। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा रविवार को फेसबुक लाइव में नीमच जिले की मनासा तहसील के गांव खेड़ली के दो छात्रों केशवसिंह व देवराज द्वारा अपनी गुल्लक में जमा राशि कोरोना पीडि़तों के उपचार के लिए देने की सराहना की थी। उनके इस अनुकरणीय कार्य के लिए बच्चों को सम्मानित करने के निर्देश सीएम ने दिए थे। इसी क्रम में कलेक्टर जितेन्द्रसिंह राजे एवं पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार राय ने सोमवार को मनासा क्षेत्र के गांव खेड़ली के स्कूल में पहुंचकर अनुकरणीय कार्य करने वाले छात्र केशवसिंह एवं छात्र देवराज का पुष्पहार पहनाकर स्वागत किया। दोनों को सम्मान स्वरूप नि:शुल्क साइकिलें प्रदान की। शारदा विधा निकेतन स्कूल भाटखेड़ी, डीकेन तथा सरदार पटेल स्कूल भाटखेड़ी द्वारा भी कोरोना प्रभावितों की मदद के लिए कलेक्टर जितेन्द्र सिंह राजे को कुल 31 हजार रुपए की सहयोग राशि भेंट की गई है।

पीएम की एक अपील का असर
गौरतलब है कि पीएम मोदी की अपील के बाद हर इंसान इस महायज्ञ में आहूति देना चाहता है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से अपील की है कि वे प्रधानमंत्री राहत कोष में दान करें. यह राहत कोष भविष्य में मौजूदा संकट जैसी स्थिति से निपटने में काम में लाया जाएगा। पीएम मोदी ने ट्वीट में लिखा कि लिंक में राहत कोष से जुड़ी सारी जानकारी है. यह राहत कोष छोट-छोटे दान भी स्वीकार करता है।पीएम मोदी ने कहा कि यह राहत कोष आपदा प्रबंधन की क्षमता को मजबूत करेगा और नागरिकों को सुरक्षा को लेकर किए जा रहे शोध में काम में लाया जाएगा। प्रधानमंत्री ने अपील की है कि आइए भारत को एक स्वस्थ देश और आगे आने वाली पीढ़ियों के लिए समृद्ध बनाने में कोई कसर न छोड़ें।


Top