logo
add image

बिजली आपातकालीन सेवा मे शामिल , मगर कोरोनो से कर्मचारियों की परवाह किये बगेर भेज रहे हैं घर घर वसुली पर

बिजली विभाग अपने कर्मचारियों को लेकर क्यों नहीं है अलर्ट

सरवानिया महाराज । पुरा देश कोरोना को ना कहने के लिऐ अलर्ट पर भी है और शासन स्तर पर बिजली विभाग को आपातकालीन सेवा में शामिल किया गया है जो सही भी है। बिजली आपूर्ति आपातकालीन सेवा में है। परंतु बिजली कपंनी कर्मचारियों को बिजली आपूर्ति के अलावा अन्य कार्य जैसे वसूली, कार्यालीन कार्य,जिसमें बाहरी लोगो से संपर्क करना पड़ता है, को भी इसी में माना जा रहा । मध्यप्रदेश अभियंता संघ के महासचिव व्ही के एस परिहार के नाम से वाट्सएप पर अपील जारी हुई है जिसमें वो अपने साथियों से कह रहे हैं कि मैदान में पदस्थ अधिकारी मुख्य अभियंता, एसई, ईई इस संबंध में कुछ सोच नहीं पा रहे है कि इससे बचने के लिए क्या उपाय करने चाहिए क्योंकि वह सभी प्रबंधन के आदेश का इंतजार कर रहे है । जबकि पत्राचार करने के उपरांत वहां से कोई निर्देश नहीं दिए गए है जो चिंताजनक है। इसलिए सभी अभियंताओं को विचार कर आगे आना चाहिए एवं मैदानी कर्मचारियों को सबसे पहले उन्हें सुरक्षित रखने के लिए मास्क, सेनेटाइजर उपलब्ध कराएं एवं यह भी सुनश्चित करे कि कौन सी सेवाएं देना आत्यवयक है उन्हें ही निरंतर जारी किया जाय। आइए सभी अभियंता आगे आए एवम स्व निर्णय लेते हुए कार्यवाही सुनिश्चित करें।अधिकारियों कर्मचरियों की सुरक्षा के लिए अभियंता संघ द्वारा जनहित में जारी।
------------------------------------------
वसुली के लिए घर घर अभियान
-------------------------------------------
कोरोना के चलतें जंहा देश के सभी प्रदेश अलर्ट पर है वहीं कई शहरों को लाक डाउन किया जा चुका है । आने जाने वाले हर एक शख्स पर नजर रखी जा रही है बाहर से आनेवाले हर एक व्यक्ति की मानीटरिंग जांच की जा रही है ऐसे में बिजली कंपनी के कर्मचारियों को घर घर भेजना कितना उचित है विभाग के आला अधिकारियों को इस और सोचना पड़ेगा। मार्च माह में कर्मचारियों पर वसुली का दबाव है ऐसे कोई कर्मचारी संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आया तो क्या होगा।
_________
अभी उपर से ऐसा कोई आर्डर नहीं मिला
-------------------------------------------
हम भी स्थती को देख रहे हैं पर अभी उपर से डोर टू डोर वसूली को लेकर कोई आदेश नहीं आया है , फिर भी कोरोना से बचाव के लिए हमने कर्मचारियों को दुर रहकर वसूली संवाद करने की कहा है।
राजेंद्र नायर ,
अधिक्षण यंत्री बिजली कपंनी नीमच

Top