logo
add image

जयगोपाल राठी का आकस्मिक स्वर्गवास, सैकड़ों नम आंखों ने दी अंतिम विदाई

जावद। धार्मिक, सामाजिक एवं राजनीतिक क्षेत्र में सदैव सक्रिय रहने वाले, सरल-सहज, हंसमुख एवं मिलनसार व्यक्तित्व के धनी श्री पुरुषोत्तम राठी “जयगोपाल” का मंगलवार तड़के उदयपुर में इलाज के दौरान आकस्मिक स्वर्गवास हो गया। श्री राठी के निधन से जावद नगर सहित अंचल में शोक की लहर फैल गई। मंगलवार दोपहर में आपके हनुमान गली, लक्ष्मीनाथ मार्ग स्तिथ निवास से अंतिम यात्रा निकाली गई जो नगर के प्रमुख मार्गो से होकर रामपुरा दरवाजा मुक्तिधाम पर पहुंची। यहां पर उनके छोटे भाई सूरजमल, राजेंद्रकुमार, जगदीशचंद्र एवं उनके सुपुत्र मुकेश व राकेश (बंटी) ने अंतिम संस्कार कर मुखाग्नि दी साथ ही नगर एवं आसपास ग्रामीण अंचल के नागरिकों व दूरदराज के रिश्तेदारों ने सजल नेत्रो से अंतिम विदाई दी। इस दुखद अवसर पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में नीमच जिला माहेश्वरी सभा अध्यक्ष राजकुमार मुछाल, भाजपा जिला महामंत्री श्याम काबरा, स्वर्णकार समाज के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य नृसिंहलाल सोनी, युवा अभिभाषक विनोद पाटीदार, जैन समाज के महामंत्री नरेन्द्र गांधी, भाजपा के पूर्व जिला महामंत्री सुखलाल सेन, श्री माहेश्वरी समाज जावद अध्यक्ष दिलीप बांगड़, मनासा नगर परिषद के पूर्व अध्यक्ष रामप्रसाद कसेरा, जनपद पंचायत अध्यक्ष प्रतिनिधि पूरणमल अहीर, सांसद प्रतिनिधि नारायण काबरा परशुराम सेना के तहसील अध्यक्ष सत्यनारायण शर्मा, समाजसेवी अमृतलाल चौधरी, ललित राठी, भंवरलाल लोधा, जगदीश न्याति, घीसालाल काछी आदि ने श्री राठी के जीवन पर प्रकाश डालते हुए श्रद्धांजलि अर्पित की। उठवना दिनांक 31 जनवरी 2019 को दोपहर 2 बजे श्री माहेश्वरी समाज भवन लक्ष्मीनाथ चौक जावद पर रखा गया है।

Top